स्वागत, Thursday , Nov , 15 , 2018 | 00:47 IST

  • Screen Reader
  • Skip to main content

Current Size: 100%

जनादेश, मिशन और विजन

दृष्टि

उद्योगों के विश्वास और समाज के लिए दृश्यता सहित मैकेनिकल इंजीनियरिंग विज्ञान और प्रौद्योगिकियों में एक वैश्विक अनुसंधान एवं विकास संस्थान बनना।

लक्ष्य

  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग और संबद्ध क्षेत्रों में लागत प्रभावी और मूल्य वर्द्धित तकनीकों का अनुसंधान और विकास करना।
  • स्थायी सशक्तिकरण के लिए राष्ट्रीय कौशल विकास पहल में महत्वपूर्ण योगदान।

अधिदेश

  • देश में विज्ञान और प्रौद्योगिकी की समग्र योजना के साथ संबंधित निकायों द्वारा विकसित राष्ट्रीय प्राथमिकता के संबंधित क्षेत्रों में अनुसंधान एवं विकास को पूरा करना।
  • राष्ट्रीय प्राथमिकताओं के अनुरूप सार्वजनिक/निजी क्षेत्र के उद्योगों द्वारा प्रायोजित अनुसंधान एवं विकास का प्रावधान।
  • स्वदेशी प्रौद्योगिकी के निरंतर सुधार की ओर निर्देशित अनुसंधान एवं विकास करना
  • आत्मनिर्भरता के राष्ट्रीय उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए देश की सामाजिक, आर्थिक और औद्योगिक आवश्यकताओं के अनुरूप नई प्रौद्योगिकियों के विकास के लिए अनुसंधान एवं विकास आरंभ करना।
  • स्थानीय संसाधनों के इस्तेमाल पर जोर देने के साथ, उचित और वैकल्पिक तकनीकों पर अनुसंधान एवं विकास का प्रावधान करना।
  • संस्थागत स्तर पर मूल अनुसंधान को बढ़ावा देने के लिए अनुसंधान एवं विकास सेवाओं के विस्तार के माध्यम से वित्त और संसाधनों का निरंतर प्रवाह सुनिश्चित करना।
  • उचित पोषण और विपणन के जरिए प्रयोगशाला स्तर की तकनीकों के वाणिज्यिक संस्थानों के लिए तेजी से अंतरण पर केंद्रित गतिविधियाँ आरंभ करना।
  • तेजी से हस्तक्षेप के लिए अनुसंधान एवं विकास सेवाओं के विस्तार के माध्यम से उद्योगों की अनुसंधान एवं विकास आवश्यकताओं की पहचान के लिए नियमित आधार प्रयास करना।

 


आखरी अपडेट : 22 Aug, 2017